वो कहती है शायरी

वो कहती है शायरी

वो कहती है शायरी

वो कहती है शायरी

वो कहती है बताओ क्या मेरे बिन जी सकोगे तुम ,
मेरी बातें , मेरी यादें मेरी आंखे भुला दोंगे ,
मै कहता  हूँ कभी इस बात पर सोचा नहीं मैंने ,
अगर एक पल को भी सोचु तो सांसे रुकने लगाती है |

वो कहती है सदा ऐसे ही क्या तुम मुझको चाहोगे ,
की मैं इसमे कमी बिलकुल गवारा कर नहीं सकती ,
मै कहता हूँ मोहब्बत क्या है ये तुमने सिखाया है ,
मुझे तुम से मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं आता है ||

वो कहती है जुदाई से बहुत डरता है मेरा दिल ,
की खुद को तुम से हटकर देखना मुमकिन है नहीं है अब ,
मै कहता हूँ यही ख्वाब मुझको सताते है ,
मगर सच है मोहब्बत में जुदाई साथ चलती है ||

वो कहती है  तुम्हे मुझ से मोहब्बत इस कदर क्यों है ,
की मैं एक आम सी लड़की तुम्हे क्यों खाश लगाती हूँ ,
मै कहता हूँ कभी खुद को मेरी आँखों से तुम देखो ,
मेरी दीवानगी क्यों है ये खुद ही जाउ जोओगी ||

वो कहती है बताओ ना किसे खोने से  डरते हो ,
बताओ कौन है वो जिसको ये मौसम बुलाते है ,
मैं कहता हूँ ये मेरी शायरी है आइना दिल का ,
जरा देखो बताओ तुम्हे क्या इसमें नजर आता है ||

वो कहती है मुझे अल्फाज के जुगनू नहीं मिलते ,
तुम्हे बतला सकूँ दिल में मेरे कितनी मोहब्बत है ,
मै कहता हूँ मोहब्बत तो निगाहों से छलकती है ,
तुम्हारी ख़ामोशी मुझ से तुम्हारी बात करती है ||

वो कहती है की दिनु बहुत बातें बनाते हो ,
मगर सच है की ये बाते बहुत ही याद रहती है ,
मै कहता हूँ ये सब बाते फ़साना सब एक बहाना है ,
की पल कुछ जिंदगानी के तुम्हारे साथ कट जाए ,
फिर उसके बाद ख़ामोशी का दिलकश नक्श होता है ,
निगाहे बोलती है ओर ये लब खामोश रहते है ||

वो कहती है शायरी

विडियो देखें  –


विडियो गेलरी पर जाएं

हमारे यूट्यूब चैनेल पर जाएं

हमारी एंड्राइड एप्लीकेशन को अपने मोबाइल में डाले ||

Use G Suits For your Website

इन्हें भी पढ़ें  –

होंठों को प्राकर्तिक रूप सें सुंदर बनाने के उपाय

दांतों को मोतियों की तरह चमकदार कैसे बनाएं

Related posts

Leave a Reply