Jindagi ki Kitaab ShayariStatus

Jindagi ki Kitaab ShayariStatus

Jindagi ki Kitaab ShayariStatus हिंदी शायरी और स्टेटस मत खोलो मेरी जिंदगी की पुरानी किताबों को जो पहले था वो अब मैं रहा नहीं और जो अब हूँ किसी को पता नहीं || ShareOn Whatsapp Copy शायरी इन्हें भी पढ़ें :-अनमोल विचार वो कहती है तूं क्यों मेरे पीछे पड़ा तुझे तो कोई और मिल जाएगा हमने भी कह दिया गुलाब तो नहीं कहता मुझे मत तोड़ तेरे लिए कोई और खिल जाएगा || ShareOn Whatsapp Copy शायरी इन्हें भी पढ़ें :-रुला देने वाली प्रेम कहानी नींद आने की तो…

Read More